Tuesday, September 7, 2010

बुदबुदाती हुयी सी कुछ तस्वीरें…

 

P280810_15.08DSCN0749 DSCN0750DSCN0771 DSCN0794DSCN0807  A room with a windowDSCN0958 DSCN0983DSCN0991 

 

इनमें से कुछ तस्वीरें मैने पवन के कैमरे और अपने मोबाईल से ली हैं और कुछ पवन ने ली हैं। कुछ और तस्वीरें हैं, जो इधर हैं और कुछ पवन के फ़्लिकर पर…

22 comments:

Nishant said...

Beautiful photos.
I like the spontaneity in these photos.

richa said...

हर तस्वीर कुछ बोलती हुई सी लगी...
FB वाला एल्बम तो पहले ही देख चुके हैं और कमेंट्स भी कर चुके हैं :) फ्लिकर वाला अभी देखा... awesome pics !!!
my favorite... lotus temple pic wid a lot of birds flying in front...

Mrs. Asha Joglekar said...

खूबसूरत तस्वीरें ।

प्रभात रंजन said...

मैं इन तस्वीरों में खो सा गया. मन कुहरीला हो गया.

kshama said...

Bahut achhee tasveeren hain!

Archana said...

Beautiful Picks....

प्रवीण पाण्डेय said...

बहुत सुन्दर चित्र।

M.A.Sharma "सेहर" said...

Nice Pics !!

rainbow on Kutub..Beautiful !!

n aap dono ne Lays kha kar rapper vaheen neeche q dale ...??bad boys ..:)))

Pankaj Upadhyay (पंकज उपाध्याय) said...

@48267133171008303.0

Sehar ji,
maine bhi pic mein hi notice kiya.. wo hamne nahin daale :)

bad boys hote hote bas bach gaye..

रंजना [रंजू भाटिया] said...

बहुत खुबसूरत लगी हर तस्वीर

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत खूबसूरत तस्वीरें

shikha varshney said...

हर मूड की तस्वीरें हैं ..एक से एक खूबसूरत.

हमारीवाणी.कॉम said...

क्या आप हिंदी ब्लॉग संकलक हमारीवाणी के सदस्य हैं?

हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि

Udan Tashtari said...

बहुत अच्छा लगा तस्वीरें देखकर.

आशीष/ ਆਸ਼ੀਸ਼ / ASHISH said...

पंकज,
लगभग जीवंत तसवीरें....
खूबसूरत!
आशीष
--
बैचलर पोहा!!!

aradhana said...

फेसबुक पर भी देखीं और यहाँ भी. सुन्दर तस्वीरें हैं.

abhi said...

सब तस्वीरें मस्त हैं भाई...जबरदस्त हैं सब :)

anju said...

पंकज जी,तस्वीरें देखनी शुरू की ही थी तो लग रहा था कि यह तो ऋषिकेश ,मसूरी लग रहा है |लेबल देख कर cofirm भी हो गया |अगली दफा मसूरी आयें तो जरूर बताईगा मुझे और मेरे पति को आप से मिल कर खुशी होगी|
सभी तस्वीरें बहुत खूबसूरत हैं.

स्वप्नदर्शी said...

nice pictures

Pramod Singh said...

पत्‍थर पर ही सही, दो लोगों का साथ बैठना अच्‍छा है.

Pankaj Upadhyay (पंकज उपाध्याय) said...

@2707229609220428102.0

:-)

अनूप शुक्ल said...

सुन्दर!