Sunday, September 16, 2012

इव टीजिंग - एक अपील



*प्रतीक उपाध्याय की आवाज में

6 comments:

Shekhar Suman said...

अजीब सी कशमकश में हूँ... क्या कह सकता हूँ... बीमार हैं वे लोग जो ऐसा करते हैं और हम... ??? हम तो उससे भी ज्यादा गुनाहगार हैं जो ये सब देख कर चुप रह जाते हैं... इस पोस्ट के क्या मायने हो सकते हैं और क्या फर्क पड़ेगा ये तो नहीं पता.. लेकिन जो भी हो ज़रूरी ये है कि सब ये सुने, खुद में थोड़ी शर्म महसूस करें, और हो सके तो प्रायश्चित भी करें....
बेहतरीन पौड्कास्ट...

प्रवीण पाण्डेय said...

गहन विषय, ध्यान देने का विषय..

shikha varshney said...

काश ...कुछ तो समझ पाते लोग.

दीपक बाबा said...

@आते-जाते भद्दे कॉमैंट करने वाले सड़क छाप मजनुओं को सबक सिखाने वाली इलाहाबाद की एक लड़की आजकल चर्चा में है। अश्लील कॉमेंट करने वाले एक युवक की 22 साल की इस लड़की ने न केवल पिटाई कर दी बल्कि उसकी बाइक को आग भी लगा दी

http://navbharattimes.indiatimes.com/-up-girl-beats-eve-teaser-sets-his-bike-on-fire/articleshow/16432017.cms

सड़क छाप मजनुओं के लिए लड़कियों को खुद जिंदादिली दिखानी होगी.

lori ali said...

likhte to achcha ho ji!!!! gahraayee hai lekhan me.....

डिम्पल मल्होत्रा said...

सितम्बर खत्म की हर तस्वीर एक खास तरीके से मुस्कराती है...