Saturday, May 16, 2009

उत्तर प्रदेश, मुझे तुझपर गर्व है!!

मैने कभी तेरे लोगो पे शक नही किया……., तेरे नेताओ पे किया। उनपर किया जिनहोने तेरे विकास के लिये अन्ग्रेजी और computer को ban करने की बात की, उनपर किया जिन्होने तुझे जातियो मे बाट दिया, उनपर किया जिन्होने विकास कि जगह मूर्तिया लगवाने का काम किया, उनपर किया जिन्होने तेरी कोख पर धर्म की होली खेलने की कोशिश की।

हर बार की तरह, इस बार भी तुने भारत को राह दिखायी है। तुने काग्रेस और राहुल गान्धी को राह दिखायी है। राहुल के पास जाति और धर्म का कोइ मुद्दा नही था, वो गाव गाव गया, तेरे लोगो के साथ खाना खाया, तेरे लोगो को समझा। उसने बोला कि जिस दिन गरीबो को ऊपर लेकर आयेगा, उस दिन भारत चमकेगा… ।

और तुने एक अछ्छे नेता की सुनी। तू जाति और धर्म से ऊपर उथी और तूने देश के लिये सोचा। आज मै खुश हू और गर्वान्वित महसूस कर रहा हू कि तुने फिर से भारत को एक राह दिखायी है…………………

कैफ़ी आज़मी ने कभी कहा था:

“अज़ाओ मे बहते थे आसू, यहा लहू तो नही,

ये कोई और जगह होगी, लखनऊ तो नही॥”

UP तुझे मेरा सलाम !!

5 comments:

इष्ट देव सांकृत्यायन said...

और उन पर नहीं किया जिन्होंने ऐसे नेताओं को सिर पर बैठाया?

"लोकेन्द्र" said...

हाँ गर्व की बात तो है ही लेकिन इस गर्व को अभी और बढाया जा सकता है.... इन मौका परस्तो को शून्य करके....

अनूप शुक्ल said...

बात तो बाजिब है!

karunesh said...

क्या बात कही है.......9936373944

prashant said...

मजा आ गया ...