Sunday, April 5, 2009

एक और जन्मदिन !!

आज मेरा एक और जन्मदिन बीत गया। इस बार इसके साथ एक प्रयोग किया. कुच लोगो को मेरा जन्मदिन याद रहा और कुच लोगो को नही लेकिन शायद मैने अपनी ज़िन्दगी मे पहली बार उन्हे बोला कि मुझे ये खराब लगा कि उन्हे मेरा जन्मदिन याद नही रहा। इस प्रयोग से मुझे ये तो पता चला कि मै किसे अपना मानता हू। आज तक मै यही नही जानता था॥

मेरे दो चेहरे थे और एक चेहरे को सिर्फ़ मै जानता था लेकिन अभी इन दोनो चेहरो को एक दूसरे से मिलवाना है।

कुच ज्यादा ही इमोशनल हो गया। :)

लेकिन एक खुशी है, मेरे पास कुच पात्र है और एक कहानी है, मेरी अपनी कहानी।

एक दिन इसके बारे मे लिख्नना है। बस इन्तज़ार है उस पल का…

9 comments:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

देर से ही सही! बधाई जन्मदिन की!

उन्मुक्त said...

जन्मदिन की बधाई

Udan Tashtari said...

जन्मदिन की बधाई एवं शुभकामनाऐं.

रंजना [रंजू भाटिया] said...

जन्मदिन की बधाई

poemsnpuja said...

belated happy birthday! keep smiling :)

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

Many Happy returns of the Day to you Pankaj bhai

बी एस पाबला said...

देर से ही सही, जनमदिन की बधाई।
ऐसे ही भूल जाने वालों के लिए यह पोस्ट लिखी थी।

वैसे आपका जनमदिन जोड़ दिया गया है। अब आटोमेटिक रिमांईंडर के बाद भी कोई भूल जाये, तो फिर भूल जाये :-)

vijaymaudgill said...

पंकज ही जन्मदिन मुबारक हो। ये मत सोचो किसे याद किसे नहीं। सोचो तो बस ये कि ज़िंदगी के कितने हसीन पल आपने कितने ही लोगों के साथ गुज़ार लिए उनमें से कुछ आपके साथ हैं कुछ नहीं। कुछ ने याद रखा कुछ ने नहीं। मगर आप हैं। और आगे बहुत ही हसीन ज़िंदगी पड़ी है जीने के लिए खट्टे-मीठे अनुभवों के साथ। और आगे जाने कितने लोग मिलते रहेंगे। इसलिए मुस्कुराते रहो। इस मुबारक दिन पर मैं प्रार्थना करता हूं भगवान से कि आपकी हर इच्छा पूरी करे।

अनूप शुक्ल said...

पेंडुलममना बालक को जन्मदिन मुबारक! दोनो साल के!